Smartphone side effects for Children: इस समय था, जब लोगों के पास पूरे घर में केवल एक मोबाइल फोन, लैपटॉप या फिर कोई गैजेट हुआ करता था लेकिन आजकल एक ही घर में 5 से 6 स्मार्टफोन, 2 से 3 लैपटॉप और अन्य गैजेट्स मौजूद हैं. बड़े तो अपना इन पर समय बिताते ही हैं लेकिन आजकल के बच्चे भी घंटों मोबाइल फोन, लैपटॉप आदि के साथ समय गुजार रहे हैं. कई बच्चे तो ऐसे भी होते हैं, जिन्हें अगर कुछ देर फोन ना मिले तो वह बेचैन से हो जाते हैं.

आजकल के कुछ बच्चों में आदतें ऐसी पनप रही हैं कि उन्हें अगर थोड़ी देर के लिए फोन ना मिले तो वह तिलमिला से जाते हैं लेकिन ऐसे बच्चों के लिए एक हैरान कर देने वाली रिपोर्ट सामने आई है. इस स्टडी रिपोर्ट में बताया गया है कि जिन बच्चों को स्मार्टफोन की लत होती है, वह मेंटली बीमार हो सकते हैं. स्टडी के अनुसार, जो लोग दिन भर में 4 घंटे से ज्यादा फोन चलाते हैं, उससे उनके दिमागी सेहत पर बुरा असर पड़ता है और उन्हें इसकी लत लग सकती है.

रोज पिएं यह स्पेशल जूस, एक सप्ताह में कम होने लगेंगी झुर्रियां!

बच्चे हों या बड़े हर किसी को सावधानीपूर्वक इन गैजेट्स का इस्तेमाल करना चाहिए. अगर बच्चों में मोबाइल फोन की लत लग जाती है तो उसके क्या-क्या नुकसान होते हैं, चलिए आपको बताते हैं-

स्टडी के अनुसार, बीते सालों में युवाओं खासकर नाबालिग और टीनएजर्स में मोबाइल फ्री फोन का क्रेज कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है. इससे उनके दिमागी सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है और इसके साथ ही उन्हें कई अन्य तरह की दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है.

ठंड में हर रोज खाएं ओट्स, मिलेंगे ये दमदार फायदे

बच्चों पर स्मार्टफोन के साइड इफेक्ट ज्यादा
स्मार्टफोन मोबाइल आदि के इस्तेमाल से बच्चों में अनिद्रा और नींद से जुड़ी कई आने समस्याएं देखी जा रही हैं. इसके साथ ही उनकी आंखें कमजोर हो रही हैं और नजरों पर भी बुरा असर पड़ रहा है. ज्यादा फोन इस्तेमाल करने वाले बच्चों में मस्कुलोस्केलेटल डिसऑर्डर देखा जा रहा है.

इतनी देर बच्चों को चलाना चाहिए स्मार्टफोन
कोरिया की हन्यांग यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर की टीम ने इस स्टडी में 50,000 से ज्यादा नाबालिग बच्चों के Data का विश्लेषण किया. इस स्टडी के मुताबिक जो बच्चे हर दिन चार घंटे से ज्यादा स्मार्टफोन या मोबाइल चलाते हैं, उनमें तनाव की समस्या ज्यादा होती है. इतना ही नहीं, ऐसे बच्चों में सुसाइड करने के विचार भी ज्यादा आते हैं.

रात में एलोवेरा जेल लगाकर सोने से आखिर क्या होता है? जानिए

जिन बच्चों को स्मार्टफोन की लत लग जाती है, वह परिवार से दूर रहना पसंद करते हैं. इसके साथ ही वह अपनों के बीच में बैठने के बजाय कोई कोना पकड़ना सही समझते हैं. इस स्टडी को ओपन एक्सेस जर्नल लॉस वन में प्रसारित किया गया. इसके साथ ही बताया गया कि जो नाबालिग रोज एक से दो घंटे स्मार्टफोन चलाते हैं, वह ज्यादा फोन चलाने वाले बच्चों से स्मार्ट और दिमागी होते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here