deependra rathore marriage

मां-बाप पूजा-पाठ में व्यस्त तो बेटा शादी के लिए इस तरह खोज रहा लड़की, लोग हैरान

Damoh Rickshaw Driver Viral: अक्सर आपने देखा होगा कि जब भी घर में बच्चों की शादी करनी होती है तो मां-बाप अपना मनपसंद रिश्ता ढूंढते हैं. घर के बड़े ही अपने बच्चों के लिए कोई अच्छा रिश्ता ढूंढ कर लाते हैं लेकिन आज आपको एक ऐसी खबर के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें एक ई-रिक्शा वाला खुद ही अपनी शादी के लिए रिश्ता ढूंढ रहा है और इसके लिए उसने जो यूनिक तरीका अपनाया है, वह लोगों को वाकई हैरान कर रहा है.

दमोह के इस युवक ने अपनी शादी के लिए अनोखे अंदाज में रिश्ते का इश्तहार दिया है. खास बात तो यह है कि उसने अपने ई-रिक्शा में एक बड़ा सा पोस्टर लगा रखा है. उसका नाम दीपेंद्र राठौर है और उसकी उम्र 30 साल है लेकिन दीपेंद्र राठौर अपने लिए ई-रिक्शा पर पोस्टर लगाकर रिश्ता क्यों ढूंढ रहा है, चलिए आपको बताते हैं.

एक-दूजे का हाथ थामे बूढ़े राजस्थानी कपल का Video वायरल, प्यार देख रो पड़े लोग

यह मामला मध्य प्रदेश के दमोह शहर का है, जहां पर एक नवयुवक दीपेंद्र राठौर अपनी ही शादी के लिए लड़की की तलाश कर रहा है. इसके लिए उसने अपने ई रिक्शा में एक पोस्टर लगा रखा है. इस पोस्टर में शख्स दीपेंद्र की पूरी डिटेल जैसे की हाइट, एजुकेशन, ब्लड ग्रुप सब कुछ लिखा हुआ है. दीपेंद्र राठौर ई-रिक्शा को लेकर के पूरे शहर में घूम रहा है. जहां कहीं भी वह रिक्शा लेकर के जाता है, लोग उसमें लिखी डिटेल पढ़ना शुरू कर देते हैं. इसके चलते दीपेंद्र राठौर पूरे शहर में चर्चा का विषय बन गया है.

रिक्शावाले ने बोली अंग्रेजों जैसी फर्राटेदार English, सुनने वाले बोले- भाई तो फायर है

धर्म-जाति पर बंधन नहीं
जानकारी के मुताबिक, दीपेंद्र राठौर की उम्र 30 साल हो गई लेकिन उसके लिए कोई रिश्ता नहीं आ रहा है. वह शादी करना चाहता है. इसी वजह से वह ऐसा करने पर मजबूर हो गया है. खास बात तो यह है कि उसने ई-रिक्शा में लगाए गए पोस्टर में बड़ी बात लिखी है कि शादी करने में जाति-धर्म का कोई बंधन नहीं है. कहने का मतलब यह है कि किसी भी धर्म या जाति की युवती उसके पास शादी का प्रस्ताव लेकर जा सकती है और उसके परिवार के लोग भी जा सकते हैं.

Video: बर्थडे पर लड़के को मिला ऐसा गिफ्ट, बेचारा 10 मिनट तक पागलों की तरह हंसता रहा

मां-बाप की मर्जी भी शामिल
खास बात तो यह है कि दीपेंद्र राठौर के इस तरह से पोस्टर लगाकर युवती को खोजने में उसके मां-बाप की भी परमिशन है. दीपेंद्र के मुताबिक, उसके मां-बाप पूजा पाठ में व्यस्त रहते हैं और इसलिए उनके पास अपने बेटे की शादी के लिए लड़की खोजने का समय नहीं और यही वजह है कि वह ऐसा कर रहा है. दीपेंद्र राठौर का कहना है कि वह एक ई-रिक्शा चालक है और अपने परिवार का भरण पोषण करता है. इसके साथ ही उसने यह भी कहा कि जो कोई लड़की भी उसकी जीवन संगिनी बनेगी, वह हमेशा उसे खुश रखेगा. दीपेंद्र के इस तरह से पार्टनर ढूंढने का तरीका लोगों को खूब हैरान कर रहा है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top