kidney me pathri

किडनी में पथरी होने पर दिखते हैं ये लक्षण, समय रहते हो जाएं सचेत

Health News: आजकल गुर्दे की पथरी यानी की किडनी में स्टोन हो जाना एक आम बीमारी हो गई है. इसे गंभीर बीमारी के तौर पर देखा जाता है. अगर किसी की किडनी में पथरी हो जाती है तो मरीज को काफी दर्द का सामना करना पड़ता है. कई बार तो यह सिचुएशन इतनी ज्यादा गंभीर हो जाती है कि रोगी को मेडिकल इमरजेंसी की भी आवश्यकता पड़ जाती है लेकिन अगर आप शुरुआती लक्षणों को पहचान करके सतर्कता बरतने लगें तो किडनी में पथरी को बढ़ने से रोका जा सकता है.

अगर किसी के शरीर में किडनी हो जाए तो कुछ खास तरह के लक्षण दिखने शुरू हो जाते हैं. किडनी में पथरी हो जाने पर कौन-कौन से लक्षण शरीर में नजर आना शुरू हो जाते हैं, चलिए बताते हैं-

पेट दर्द
अगर किसी की किडनी में स्टोन है यानी की पथरी है तो ऐसे में दर्द ज्यादातर पेट के निचले हिस्से में किसी तरफ हो सकता है. कुछ लोगों के यह दर्द बाएं तरफ होता है तो कुछ लोगों के दाएं तरफ होता है. पथरी से होने वाला दर्द उसके स्थान पर निर्भर करता है.

इस पत्ते को सूंघने मात्र से दूर हो जाता है जुकाम, नहीं होंगे और परेशान

उल्टी की दिक्कत
कई बार अगर किडनी में स्टोन हो जाए तो लोगों को उल्टी की दिक्कत शुरू हो जाती है. खास करके तब जब पथरी पाइप में नीचे चली जाती है और इसके कारण यूरिन का फ्लो बाधित होने लगता है.

पेशाब से खून
अगर किसी के शरीर में स्टोन बनना शुरू हो गया है तो कई बार मरीज को पेशाब से खून आने की दिक्कत हो जाती है. मरीज को पेशाब में खून किडनी में पथरी की वजह से आना शुरू होता है. कई बार यह समस्या काफी बड़ा रूप ले लेती है.

यूरिन लीकेज
अगर किसी को पथरी है तो ऐसे मरीजों को पेशाब से जुड़ी कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. विशेषकर जब पथरी नीचे पेशाब की नली में चली जाए तो रोगी को बार-बार पेशाब आने की दिक्कत होने लगती है और कई बार उसका यूरिन लीकेज भी हो जाता है.

किन लोगों को पनीर नहीं खाना चाहिए, हो सकता है नुकसान

यूरिन आउटपुट में कमी
किडनी के पथरी के मरीजों में देखा जाने वाला यह लक्षण काफी दुर्लभ है. ऐसे में रोगियों के यूरिन आउटपुट में कमी होती है. खास करके तब जब स्टोन दोनों किडनी या पेशाब की नली में पहुंच जाता है और ऐसे में मरीज के दोनों किडनी से यूरिन बाहर नहीं निकल पाता.

बार-बार बुखार
अगर किसी को किडनी स्टोन हो गया है तो यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन के कारण उसे बार-बार बुखार होने लगता है और यह सिचुएशन गंभीर हो जाती है. ऐसे में यूरोलॉजिस्ट से सलाह लेनी चाहिए.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top