Home धर्म और ज्योतिष Daan Punya: अपने द्वार से कभी खाली हाथ न भेजें इन लोगों...

Daan Punya: अपने द्वार से कभी खाली हाथ न भेजें इन लोगों को, भुगतने पड़ेंगे अशुभ परिणाम

dan punya tips Never send these people empty handed from your door

धर्मशास्त्रों के अनुसार ‘दान’ को बहुत बड़ा पुण्य माना गया है. कहा जाता है कि दान करने से मनुष्य के कई पाप कट जाते हैं और उसे स्वर्ग की प्राप्ति भी होती है. शायद इन्हीं मान्यताओं को आधार मानते हुए दान को इतना महत्व देते हैं और समय-समय से धार्मिक स्थलों या मंदिरों में जाकर दान-पुण्य कमाते हैं किंतु केवल धार्मिक स्थलों पर जाकर ही दान क्यों करना है?

क्यों ना दान घर के दरवाजे पर आए किसी जरूरतमंद के लिए किया जाए? शास्त्रों की एक मान्यता के अनुसार यदि आपके द्वार पर ये चार लोग आते हें तो कभी इन्हें खाली हाथ ना जाने दें-

bhikhari ko daan
प्रतीकात्मक फोटो

भिखारी
आपके द्वार पर कोई भिखारी कुछ मांगने आए तो उसे खाली हाथ ना जाने दें. आप उसे कुछ पैसे, कपड़े या खाने योग्य कोई वस्तु आदि भेजें.

kinnar ko dan dene ke fayde
प्रतीकात्मक फोटो

किन्नर
आपके द्वार पर किन्नर आए और कुछ मांगे तो उसे भी खाली हाथ ना भेजें. किन्नरों को दान करने से कुंडली में बुध ग्रह को मजबूती मिलती है. किन्नरों को अवश्य दान करें. संभव हो तो इन्हें हरे रंग की कोई वस्तु दान कर दें.

divyang ko dan
प्रतीकात्मक फोटो

दिव्यांग
कोई दिव्यांग व्यक्ति मदद की पुकार लगाने आए तो उसकी यथा योग्य सहायता करें.
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसे लोगों को शनि-राहु का प्रतीक माना जाता है.
इन्हें कुछ दान करने से आपकी कुंडली में इन पापी ग्रहों का बुरा प्रभाव कम हो जाता है.

sant
प्रतीकात्मक फोटो

संत-महात्मा
आपके द्वार पर कोई सलाहकार या संत-महात्मा आए तो उन्हें भी खाली हाथ ना जानें दे.
ज्ञान प्राप्त करें, आशीर्वाद लें और उनके उपयोग की कोई वस्तु अवश्य ही दान करें.
ऐसा करने से घर में प्रसन्नता बनी रहती है.

यह भी पढ़ें- कैसे करें पैसों की कमी को दूर? ज्योतिष के ये उपाय आ सकते हैं काम

यह भी पढ़ें- Vastu Tips: रात में तकिया के नीचे रखें चीजें, सफलता चूमेगी आपके कदम

(Disclaimer: ऊपर दी गई जानकारियां धार्मिक मान्यताओं-परंपराओं के अनुसार हैं. Readmeloud इनकी पुष्टि नहीं करता है.)

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

error: Content is protected !!