Home स्टोरीज Pinky Finger Syndrome: ज्यादा मोबाइल चलाने वाले दें ध्यान, कहीं पहुंच न...

Pinky Finger Syndrome: ज्यादा मोबाइल चलाने वाले दें ध्यान, कहीं पहुंच न जाएं अस्पताल

Pinky Finger Syndrome

Pinky Finger Syndrome: आजकल लोगों को मोबाइल चलाने की बहुत ज्यादा लत हो गई है. जिसको भी देखो, हर किसी के हाथ में स्मार्टफोन है. किसी के हाथ में एप्पल फोन है. लोग आजकल अपने स्मार्टफोन से नज़रें हटाना पसंद ही नहीं करते हैं. अगर उनसे कुछ देर के लिए फोन छीन लिया जाए तो परेशान हो जाते हैं. आजकल तो लोगों की उंगलियां उनके मोबाइल पर ऐसे चलती हैं, जैसे कि तबला वादक या फिर कोई ढोल बजाने वाला ढोल बजाता हो.

आजकल लोगों की जिंदगी में मोबाइल इस कदर शुमार हो गया है कि लोगों को अपनी सेहत की परवाह ही नहीं है. कई बार लोग सो रहे हों या कहीं बैठे हों और उन्हें उनका फोन ना मिले तो ऐसे में वह परेशान हो जाते हैं. कई बार अगर उनके फोन की लाइट न जले तो बेवजह ही टैप करके यह चेक करते रहते हैं कि कहीं उनका फोन खराब तो नहीं हो गया.

ये लोग कतई न खाएं राजमा, जहर की तरह होता है असर, पढ़ें साइड इफेक्ट्स

क्या आप जानते हैं कि ज्यादा मोबाइल चलाने की बीमारी लोगों को खतरे की ओर धकेल रही है. ज्यादा फोन चलाने की आदत आपको कई तरह के दर्द दे रही है, जिनके बारे में आप अभी तो नहीं समझ पा रहे हैं लेकिन अगर अस्पताल जाने की नौबत आई तो आपको एहसास होगा कि आप की लापरवाही आप पर कितनी भारी पड़ी है? क्या आप जानते हैं कि आजकल स्मार्टफोन की वजह से लोगों के हाथों में दर्द होने लगा है.

भूलकर भी दूध के साथ न खाएं ये 5 चीजें, सेहत पर पड़ सकता है बुरा असर

जी हां, ज्यादा फोन चलाने से लोगों की हथेलियों में अकड़न, उंगलियों की पोरों में सूजन और दर्द की शिकायतें आने लगी हैं. ताजा मामला हाल ही में दिल्ली के मशहूर एम्स में सामने आया, यहां पर 22 साल के युवक की उंगली और हथेलियों में बेतहाशा दर्द हो रहा था. कई तरह की जांच की गई लेकिन कुछ भी पता नहीं चला. इसके चलते वह लड़का और उसके परिवार वाले बुरी तरह परेशान हो गए थे.

ऐसे कम हुआ लड़के के हाथों का दर्द
जब डॉक्टर ने उस लड़के से उसकी लाइफस्टाइल जानी और उसकी आदतों पर बात की तो पता चला कि युवक को घंटों मोबाइल चलाने की आदत थी. वह अपने फोन को ज्यादातर समय अपने हाथ में ही पकड़े रहता था. वहीं, उसके मोबाइल पर उसकी उंगलियां लगातार चलती रहती थी. बाद में पता चला कि इन्हीं वजहों की उसके हाथ और उसकी उंगलियों में बेतहाशा दर्द शुरू हो गया. डॉक्टर ने उस युवक से मोबाइल से दूर रहने की सलाह दी, वैसे उस शख्स का दर्द कम होने लगा.

Diabetes Control Tips: डायबिटीज के मरीज पिएं ये चाय, कंट्रोल में रहेगा शुगर लेवल, मिलेंगे शानदार फायदे

डॉ. उमा कुमार के मुताबिक, यह मामला भले ही बहुत कम लोगों का हो लेकिन मोबाइल को काफी देर तक हाथों में थामे रहना उंगलियों और हाथों में दर्द का कारण बन सकता है. इस युवक को हाथों और उसकी उंगलियों में दर्द की वजह लगातार फोन का इस्तेमाल करना था.

ऐसी थी युवक की लाइफ स्टाइल
यूपी के युवक की हालत तो ऐसी थी कि वह सुबह सो कर जागता था तो उसके हाथों का दर्द और भी ज्यादा बढ़ जाता था. डॉक्टर ने जब जांच की तो पता चला कि उसे रूमेटाइड ऑर्थाराइटिस है. यह बीमारी इस उम्र में बहुत ही कम लोगों में होती है. उसके बाद जब उसे एम्स ले जाया गया तो HOD डॉक्टर कुमार ने बताया कि उसके इंफ्लामेटरी मार्कर्स बढ़ गए थे. इसकी वजह से उसे रूमेटाइड ऑर्थाराइटिस बता दिया गया था. वहीं, जब डॉक्टर उमा ने टेस्ट करवाया तो रूमेटाइड ऑर्थाराइटिस नेगेटिव आया. रूमेटाइड ऑर्थाराइटिस टेस्ट नेगेटिव आने के बाद भी जब युवक के हाथों का दर्द नहीं कम हुआ तो डॉक्टरों ने इसके लिए काफी जद्दोजहद की. बाद में पता चला कि युवक घंटों अपने हाथ में मोबाइल को पकड़े रहता था. सभी जानते हैं कि आज कल के मोबाइल फोन की स्क्रीन 6 से 7 इंच होती है. कई बार इसका वजन 140 से 170 ग्राम तक होता है. इसके चलते भारी फोन लगातार हाथ में पकड़े वजह के ऊपर काफी प्रेशर पड़ता है. हर रोज ऐसा करते हैं तो आपकी उंगलियों में सूजन की शिकायत हो सकती है. इसके साथ ही आपको दर्द भी बढ़ सकता है.

इन तरीकों से घर पर ही परमानेंट काले कर लें बाल, कभी Hair Dye की भी जरूरत नहीं पड़ेगी!

क्या है पिंकी फिंगर सिंड्रोम
आपको जानकर हैरानी होगी कि मोबाइल फोन की वजह से लोगों में पिंकी सिंड्रोम की शिकायतें बढ़ रही हैं. दरअसल आजकल लोग अक्सर अपने हाथों की छोटी उंगली से फोन को होल्ड करे रहते हैं. आपकी छोटी उंगली इतना वजन नहीं सकती है. इसके लिए आपको उंगली को टेढ़ा करके रखना पड़ता है. जब हाथों में इसकी शिकायत बढ़ती है तो सबसे ज्यादा दर्द छोटी उंगली में होता है. इसके चलते इस समस्या को पिंकी सिंगर सिंड्रोम कहा जाता है तो अगर आपको भी लंबे समय तक फोन को हाथ में पकड़े रहने और उसे चलाने की आदत है तो आप तुरंत ही बदल डालिए. अगर आपको लंबे समय तक फोन पर बात करनी हो तो ईयर फोन का इस्तेमाल करें नहीं तो आपको अस्पताल जाना पड़ सकता है.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

error: Content is protected !!