Narak Punishment Reasons: अक्सर आपने देखा होगा कि जब किसी के साथ कुछ भी होता है तो लोग तुरंत ही उसके कर्मों का हवाला देते हैं. कहा जाता है कि जिनके कर्म अच्छे होते हैं, वह मृत्यु के बाद स्वर्ग पहुंचते हैं और जिनके कर्म बुरे होते हैं, वह नर्क जाते हैं. ऐसे में कई बार लोगों के मन में यह सवाल उठता है कि आखिर कौन सी गलतियों के लिए इंसान को नर्क भोगना पड़ता है.

नर्क वाली तीन गलतियों के बारे में वृंदावन वाले प्रेमानंद महाराज ने जिक्र किया है. उनका मानना है कि अगर कोई भी इंसान अपनी जिंदगी में यह तीन गलतियां कर देता है तो उसे नर्क का दुख जरूर भोगना पड़ता है. प्रेमानंद महाराज की मानें तो कामः कोधस्तथा लोभ: यानी कि काम, क्रोध और लाभ इन तीनों को ही नर्क का द्वारा माना जाता है और यह आत्मा का नाश करते हैं.

काम
प्रेमानंद महाराज के अनुसार, किसी भी पुरुष को किसी भी पराई स्त्री पर बुरी नजर नहीं डालनी चाहिए. अगर वह ऐसा करते हैं तो उन्हें नर्क भोगना पड़ता है. प्रेमानंद महाराज ने बताया है कि किसी भी पराई औरत प्रति कामवासना जैसी गंदी इच्छा मन में रखने से इंसान के सभी सुकर्म नष्ट होने लगते हैं. यही बात महिलाओं के लिए भी लागू होती है. उन्हें परपुरुष के बारे में नहीं सोचना चाहिए.

तिजोरी में रख लें पवित्र तुलसी की जड़, कभी नहीं होगी पैसों की कमी!

क्रोध
प्रेमानंद महाराज की मानें तो कभी भी इंसान को क्रोध नहीं करना चाहिए. कई बार लोग क्रोध के चक्कर में सामने वाले का अपमान कर देते हैं और हिंसात्मक कार्य कर बैठते हैं. ऐसे लोगों को नर्क भेजा जाता है.

स्वास्तिक बनाने के लिए बेहद शुभ है यह दिशा, छप्परफाड़ होगी धन की बारिश!

लोभ
नर्क के द्वार का सबसे पहला कारण लोभ माना गया है. दरअसल कभी भी दूसरे की संपत्ति, रुपये-पैसे पर बुरी नजर डालने से भी इंसान को नर्क को की यातनाएं भुगतनी पड़ती हैं.

काली मिर्च से उतारिए नजर, कठिन से कठिन दोष का कम होगा असर

प्रेमानंद महाराज बताते हैं कि अगर कोई इंसान चाहता है कि उसे स्वर्ग की प्राप्ति हो तो उसे ऐसे पाप करने से बचना चाहिए. इसके साथ ही उसे अच्छे कर्मों पर ध्यान लगाना चाहिए. ज्यादा से ज्यादा राधा नाम का जाप करना चाहिए और ईश्वर का ध्यान लगाना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here